कुत्ते जैसी वफ़ा इंसानों में क्यों नही होती