pyar-me-dard-bhari-shayari-hindi
Pyar Me Dard Bhari Shayari Hindi

प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में

प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में Pyar Me Dard Bhari Shayari Hindi जनता हूँ उनके बिना कोई ज़िन्दगी नहीं, उनका भी यही हाल है मगर किसी और के लिए

प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में

pyar-me-dard-bhari-shayari-hindi-me

Pyar Me Dard Bhari Shayari Hindi

इन्सान कम थे क्या, जो अब मोसम भी धोखा देने लगे||

तुम ने उस वक़्त बेवफाई की, यक़ीनन जब आखिरी मुकाम पर था||

जो जता-जता के हमसे प्यार करते है, वही लोग अक्सर पीछे से वार करते है||

कसूर उनका नहीं हमारा ही है, हमारी चाहत ही इतनी कशिश थी, की उनको गुरूर आ गया||

धोखा मिला जब भी प्यार में ज़िंदगी बर्बाद हो गयी, सोचा ही था की छोड़ देंगे इस राह को, कमबख्त फिर एक नई नंबर से मिस कॉल आ गयी||

आपकी आँखे अक्सर वही लोग खोलते है, जिनपर आप आँखे बंद करके विश्वाश करते है||

वह अमानत जो किसी गैर की तक़दीर बन चली, कम्बख्त यादें है जो अश्क के दामन पकडे बैठे है||

मौका न मिले,तो लोग आगे नहीं बढ़ पाते और धोखा न मिले, तो लोग औरों को नहीं पढ़ पाते||

दिल टुटा है आज भी, पर दर्द नहीं हुआ, क्या करे अब तो धोखा खाना, एक आदत सी बन गयी है||

हासिल करके तो, हर कोई मोहब्बत कर सकता है, बिना हासिल किये, किसी को चाहना कोई हमसे पूंछो||

जनता हूँ उनके बिना कोई ज़िन्दगी नहीं, उनका भी यही हाल है मगर किसी और के लिए||

उनकी चाहत से इकरार न करते, उनकी कास्मो का ऐतबार न करते, गर पता होता कि हम सिर्फ मज़ाक है उनके लिए, कसम से जान दे देते मगर प्यार नहीं करते||

जिनसे मैंने प्यार में बहुत धोखा खाया, सच कहता हूँ उनको मैंने आजतक नहीं भुला पाया||

बंद मुट्ठी में रेत की तरह,भुला दिया तुमने ज़रा ज़रा करके||

बेवफा है दुनिआ किसी का ऐतबार न करो, हर वक्त देता है धोका किसी से प्यार न करो, मिट जाओ बेशक तनहा में जी कर, पर किसी का इंतज़ार मत करो||

टुटा हो दिल तो दुःख होता है, करके मोहब्बत किसी से ये दिल रोता है, दर्द का अहसास तो तब हो, और उसके दिल में कोई और होता है||

ठुकरा दिया जिन्होंने मुझे मेरा वक़्त देख कर, कसम खाता हूँ ऐसा वक़्त लूंगा की मिलना पड़ेगा मुझसे वक़्त पर||

मोहब्बत यहाँ बिकती है इश्क़ नीलाम होता है, भरोसे का कतल यहाँ खुले आम होता है, ज़माने से ठोकर मिली तो चले हम मैखाने में, फिर वही ज़माना हमें शराबी का नाम देता है||

क्यूँ अक्सर हम ही धोखा खातें हैं, हमें भी तो बेवफाई के कई मोके मिलते है||

हर रोज़ कोई ख्वाब टूट जाता है, हर रोज़ कोई अपना रूठ जाता है, न जाने मेरी किस्मत में क्या है, जिसे मैं याद करूँ वही मुझे भूल जाता है||

धोखा और नफ़रत तो तेरे दिमाग से निकलता है, दिल में झांक कर देखो कहीं वह भी तो रो नहीं रहा है||

कहतें हैं लोग कि इश्क में भूलना आसां है, तभी तो लोग धोखा देतें हैं पलभर में, मगर ये ज़िन्दगी है जो जलती है बार-बार!

खाए ज़माने से लाखो धोखे, एक धोखा तुम से सही, लेजा तू अपनी डोली, हम अपनी अर्थी||

धोखा जब कोई अपना दे तो दिल टूट जाता है, टूट जाती है यादें और बिखर जातें हैं सपने, सच कहा कि इंसान सबसे जीतकर अपना से हार जाता है||

बड़ा शौक़ था उनके साथ इक आशियाना बनाने का, जब देखी मेरी गरीबी तो रास्ता बदल लिए||

मैं उसका सबसे पसंदीदा खिलौना हूँ दोस्तों, वो रोज़ जोड़ती है मुझे फिर से तोड़ने के लिए||

कोई था क्या नशा तेरी आँखों के बराबर? कोई होगा क्या नशा तेरे जाने के बाद? सब ठीक तो था, बेवफाई करनी क्या जरुरी थी? छोडिए अब उनका जिक्र, हम फिर कोई मयखाना पी जाएंगे ।।

दिवारों के पीछे क्या किरदार हूँ मै? यह राज़ मेरे आंगन तक को नहीं पता है, तुम बस इतना समझ लो इश्क मे बरबाद हो गया, उसका नाम क्या था यह किसी और दिन बताएंगे,

इश्क किया था, अब चीखें भी गाएंगे, तेरी बेवफाई का जिक्र ना उठे, हम आँसू लेकर शहर मे मुस्कुराएंगे, ❤💔❤

जीते जी मौत से रूबरू होना है तो किसी बेवफा से मोहब्बत कर लो