गणतंत्र_दिवस_पर_मंच_संचालन_शायरी

गणतंत्र दिवस पर मंच संचालन शायरी | Manch Sanchalan Shayari

0
भारत के गणतंत्र दिवस पर मंच संचालन शायरी, सारे जग में मान, दशकों से खिल रही, उसकी अद्भुत शान, सब धर्मो को देकर मान रचा गया इतिहास का, इसलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वास Happy Republic Day Par Manch Sanchalan Shayari 2021

गणतंत्र दिवस पर मंच संचालन शायरी

republic-day-par-manch-sanchalan-shayari

वतन हमारा ऐसा ना छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसा ना तोड़ पाए कोई,
दिल हमारा एक है, एक है हमारी जान,
हिन्दुस्तान हमारा है और हम है इसकी शान।

देश की आजादी से बड़ी कोई ख्वाहिश नहीं है,
देश के लिए जिंदा रहूं खुद से जंग यही है,
तिरंगा सबसे ऊंचा रहे इस जहान में हमारा,
मेरी पहली और आखिरी ख्वाहिश यही है।।

देश के हित के लिए लड़ते रहे हैं देश के लिए लड़ते रहेंगे ।।
जो कार्य देश के हित के लिए है वो कार्य करते रहेंगे ।।
जो भारत देश से प्रेम करेगा वो ख़ुश रहेगा ।।
आतंकवादी सोच वाले रहेंगे यहां तो डरके रहेंगे ।।

आज शहीदों ने है तुमको अहले वतन ललकारा
तोडो गुलामी की जंजीरें बरस औ अंगारा
हिन्दू मुस्लिम सिक्ख हमारा भाई भाई पियारा
ये है आज़ादी का झण्डा इसे सलाम हमारा

खुशनसीब होते हैं वो लोग,
जो देश पर कुर्बान होते हैं,
जान देके भी वो लोग अमर हो जाते हैं,
करते हैं सलाम उन देश के शहीदों को,
जिनके कारन इस तिरंगे का मान होता है… 🙏🙏🙏
Happy Republic Day 2021

खुशनसीब होते है वो लोग जो वतन पर मिट जाते है,
मर कर भी वो लोग सदा के लिए अमर हो जाते है,
करते है तुम्हे सलाम-ऐ-वतन पर मिटने वालो,
तुम्हारी हर एक साँस में बस्ता तिरंगे का नसीब है.
Happy Republic Day

मेरे मुल्क की अपनी अलग पहचान है
यहाँ कोई हिन्दू तो कोई मुसलमान है
इसकी जितनी तारिफ करुँ कम है
क्यूंकि यह हमारा हिन्दूस्तान है

तिरंगा लहराएगा अब नीले आसमान पर,
देश का नाम होगा सबकी जुबान पर,
आँख जो उठाएगा कोई हमारे हिंदुस्तान पर,
ख़त्म कर देंगे उसको या खेलेंगे अपनी जान पर।।

भूख, गरीबी, लाचारी को, इस धरती से आज मिटायेंगे,
भारत के भारतवासी को, उसके सब अधिकार दिलायेंगे,
आओ सब मिलकर नये रूप में गणतंत्र मनायें।

तू मेरा करमा,तू मेरा धरमा, तू मेरा अभिमान है,
ऐ वतन मेह्बूब मेरे तुझपे दिल कुर्बान है,
हम जियेंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए,
दिल दिया है जान भी देंगे ऐ वतन तेरे लिए ❤❤❤
गणतंत्र दिवस मुबारक हो ।।

चलो फिर से खुद को जागते है
अनुसासन का डंडा फिर घूमाते है
सुनहरा रंग है गणतंत्र का सहीदो के लहू से
ऐसे सहीदो को हम सब सर झुकाते
Happy Republic Day

“भारत गणतंत्र दिवस”
की सभी भारतीयों को शुभकामना।
“भारत के संविधान का सम्मान हमारा कर्तव्य”
🙏🇮🇳🌷🌞🌷🇮🇳🙏
एक भारत उतकृष्ट भारत शुभ प्रभात 🍀

ना मरो सनम बेवफ़ा के लिए,
2 गज जमीन नही मिलेगी दफन के लिए,
मरना है तो मरो अपने वतन के लिए,
हसीना भी दुपट्टा उतार देगी कफ़न के लिए।

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा,
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा,
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये… 🇮🇳🇮🇳🇮🇳
जय जवान !! जय हिंद !!

जाओ जाओ प्रेम के गीत से,
थोड़ा क्षण चुरा आओ ,
उस मां के आंचल से ,उस बेहना के काजल से ,
थोड़ा दर्द उठा लाओ ।
उनके लिए ही बस देश ने अब ये ठानी है
बेकार ना जाएगी उनकी जो कुर्बानी है ।

संस्कार, संस्कृति और शान मिले,
ऐसे हिन्दू, मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले,
रहे हम सब ऐसे मिल-झुल कर,
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में भगवान मिले।

0