maafi-shayari

माफी की शायरी Maafi Shayari In Hindi Sorry Shayari

माफी की शायरी Maafi Shayari In Hindi Status Quotes Very Emotional Love Sad Maafi Shayari For Sorry Share On Facebook Whatsapp Instagram Shayari New Latest 2021 With Images In Hindi

माफी की शायरी

maafi-shayari-hindi

गलती की है तो माफ़ कर , मगर यूँ ना नजरअंदाज कर

धड़कन बनके जो दिल में समा गए हैं, हर एक पल उनकी याद में बिताते हैं, आंसू निकल आये जब वो याद आ गए, जान निकल जाती है जब वो रूठ जाते हैं

आज मैंने खुद से एक वादा किया है, माफ़ी मांगूंगा तुझसे तुझे रुसवा किया है, हर मोड़ पर रहूँगा मैं तेरे साथ साथ, अनजाने में मैंने तुझको बहुत दर्द दिया है।

इस कदर मेरे प्यार का इम्तेहान न लीजिये, खफा हो क्यूँ मुझसे यह बता तो दीजिये, माफ़ कर दो गर हो गयी हो हमसे कोई खता, पर याद न करके हमें सजा तो न दीजिये।

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से, हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से, तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले, कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से।

हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना, हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना, दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं, पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।

hindi-maafi-shayari

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया, आपने तो दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया, हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में, क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया।

नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे, अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे, कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते, गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते।

निकला करो इधर से भी होकर कभी कभी, आया करो हमारे भी घर पर कभी कभी, माना कि रूठ जाना यूँ आदत है आप की, लगते मगर हैं अच्छे ये तेवर कभी कभी।

नाराज क्यूँ होते हो किस बात पे हो रूठे, अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे, कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते, गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते।

हो सकता है हमने आपको कभी रुला दिया, आपने तो दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया, हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में, क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया।

हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना, हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना, दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं, पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।

maafi-shayari-for-gf

बहुत उदास है कोई शख्स तेरे जाने से, हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से, तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले, कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से।

दिल से तेरी याद को जुदा तो नहीं किया, रखा जो तुझे याद कुछ बुरा तो नहीं किया, हम से तू नाराज़ हैं किस लिये बता जरा, हमने कभी तुझे खफा तो नहीं किया।

तुम हँसते हो मुझे हँसाने के लिए, तुम रोते हो तो मुझे रुलाने के लिए, तुम एक बार रूठ कर तो देखो, मर जायेंगे तुम्हें मनाने के लिए।

कभी सपने को भी दिल से लगाया करो, किसी के ख्वाबों में आया-जाया करो, जब भी जी हो कि कोई तुम्हें भी मनाये, बस हमें याद करके रूठ जाया करो।

हम रूठे भी तो किसके भरोसे रूठें, कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए, हो सकता है तरस आ भी जाये आपको, पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये।