khatarnak-shayari

Khatarnak Shayari Hindi – खतरनाक शायरी Status Quotes

Khatarnak Shayari – खतरनाक शायरी Status Quotes Image Photo Share Whatsapp Shayari खतरनाक ऐटिटूड शायरी Danger Share Kare Comment Kare Sir, शायरी पढ़े अनपढ़ी 

Khatarnak Shayari

khatarnak-shayari-hindi

जर्रा जर्रा वो मुझमें समाता जा रहा है,
क्या उसका भी मेरे जैसा हाल होता जा रहा है।😍☺️

मुझे नहीं पता मुझसे मिला हर इंसान,
हसा है रोया है मेरी वजह से,
हा इतना जरूर है कि मैने हर वक्त उसे,
सिर्फ खुश करने का प्रयत्न जरूर किया है।

पी लिया जहर अब ताउम्र मरते रहेंगे,
एक वादा था जिसे शराब समझें थे,
मौत भी जुदा नहीं कर सकती कह रहे थे,
रूह तक जहर पहुंचा के हमें अकेला छोड़ गए है।

कही पर दुआ का इक लफ्ज भी असर कर जाता हैं दोस्त….
तो कही बरसों की इबादत हार जाती हैं…
इश्क़ एक बहुत ज़हरीला जंगल है यारों
यहां सांप नहीं हमसफ़र डसा करते हैं।

जिंदगी मोहताज नहीं मंजिलों की,
वक्त हर मंजिल दिखा देता है,
मरता नहीं कोई किसी की जुदाई में,
वक्त सबको जीना सिखा देता है।

गर मिलना है आशिक़ से तो जाओ किसी मयखाने में,
वरना लिपटे मिलते है जिस्म किसी होटल, झाड़ी या तहखाने में!

किस्मत की लकीरों का, तुम ताज बन जाओ,
कल की बात छोडो,तुम मेरे आज बन जाओ।

धीरे से लबों पे आया है एक सवाल,
तू ज्यादा खूबसूरत है या तेरा ख़्याल..।

गुज़रना है तो दिल के अंदर से गुजरो,
मोहब्ब्त के शहर में बाईपास नहीं होते।

कलम और कागज की यारी पुरानी हैं,
कलम बिखेरती जाती हैं जज्बात,
कागज उन्हें संजीदगी से बटोरे रखता हैं।

फिर ना कहना कि हमें फुर्सत नही थी,
हम तो आये पर शायद तुम्हें जरूरत नहीं थी..!!

किस्तों में मौत आ रही है तेरे चुप हो जाने से,
हो सके तो बात कर किसी बहाने से..!

मिल जाए जो आसानी से उसकी
ख्वाहिश किसे है…
जो तकदीर में ना लिखा हो..पाने की
ख्वाहिश तो बस उसकी है।

तुम्हारी नजाकत भरी बाते,
मुझे काफी उलझा देती हैं।
तुम्हारी मुहोब्बत में चूर नजरें,
मुझे काफी सहमा देती हैं।
तुम्हारी दिलकश अदाएँ,
मुझे तुमसे लिपटी रखती हैं।
तुम्हारी हर शरारत भरी हरकत,
मुझे सिर्फ तुम्हारी बनाए रखती हैं।

किस बात पर तेरा मिजाज इतना बदल- सा गया है,
क्या कोई खता हुई है हमसे या फिर तेरा किसी और पे दिल आ गया है।

खुशियों की आरज़ू मे मुक़द्दर सो गये,
आँधी ऐसी चली कि अपने भी खो गये,
क्या खूब था उनका अंदाज़-ए-मोहब्बत,
प्यार देने आए थे और पलकें भिगो कर चले गये।

तमाम अल्फ़ाज़ तेरे बिना बेमतलब हैं,
चंद कहानियाँ तेरे बिना अधूरी रहीं!!
दिल तो था ही नहीं मेरे पास,
जो टूटा वो भरोसा था मेरा.!!