pyar-se-dur jane ki shayari

प्यार से दूर जाने की शायरी | Dur Jane Ki Shayari Image

Dur Jane Ki Shayari Image प्यार से दूर जाने की शायरी New Latest छोड़कर चले जाने वाली शायरी Status Quotes Share On Facebook Whatsapp Friends Very Heart Broken किसी के चले जाने पर शायरी 

Dur Jane Ki Shayari Image

dur jane ki shayari

दिल से दिल की दूरी नहीं होती,
काश कोई मजबूरी नहीं होती,
मिलने की तमन्ना तो बहुत है,
लेकिन कहते हैं हर तमन्ना पूरी नहीं होती…

Dil Se Dil Ki Doorie Nahi Hoti,
Kaash Koi Majburi Nahi Hoti,
Milne Ki Tamanna To Bahot Hai,
Lekin Kehte He Har Tamanna Puri Nahi Hoti…

मेरी गुफ्तगु के हर अंदाज़ को समझता है
एक वही है जो मुझे ऐतमाद रखता है…
दूर हो गए भी मुझसे है वो इतना करीब…
ऐसा लगता है मेरे आस-पास रहता है…..

Meri Guftagu Ke Har Andaaz Ko Samjhta Hai
Ek Wohi Hai Jo Mujpe Aitmaad Rakhta Hai…
Door Hoke Bhi Mujse Hai Wo Itna Kareeb…
Aisa Lagta Hai Mere Aas-Pass Rehta Hai…..

आप ने मजबूर कर दिया,
जाने क्यूं खुद से दूर कर दिया,
अब भी यही सवाल है दिल में,
हम ने क्या ऐसा कसूर कर दिया..

Aap Ne Majboor Kar Diya,
Jane Kyun Khud Se Door Kar Diya,
Ab Bhi Yehi Sawal Hai Dil Me,
Ham Ne Kya Aisa Kasoor Kar Diya..

प्यार से दूर जाने की शायरी

दूर हो तो फिर “अहस” होता है,
“दोस्त” के बीना जीवन “उदास” होता है,
“उमर” हो आप की सितारों जितनी लंबी
ऐसा “दोस्त” कहां और किसी के “पास” होता है

Doorie Ho To Phir “AHSAS” Hota Hai,
“DOST” K Bina Jeevan “UDAAS” Hota Hai,
“UMER” Ho Aap Ki Sitaron Jitni Lambi
Aisa “DOST” Kahan Aur Kisi K “PAAS” Hota Hai

जाने क्या समझौता वो मुझे, जाने क्या समझी मैं उसे
मामला नज़र आया, कुछ कदमों के साथ से

तुमसे दूर जाने का इरादा न था

Jaane Kya Samjha Woh Mujhe,Jaane Kya Samjhi Main Usen
Faasla Nazar Aaya , Kuch Kadmon Ke Saath Se

तुमसे दूर का एहसास सताने लगा,
तेरे साथ गुजरा हर लम्हा याद आने लगा,
जब भी तुझे भूलने की कोषिश की आए दोस्त,
तू दिल के और भी करीब आने लगा!

Tumse Doori Ka Ehsaas Sataane Lagaa,
Tere Saath Guzaraa Har Lamha Yaad Aane Laga,
Jab Bhi Tujhe Bhoolne Ki Koshish Ki Aye Dost,
Tu Dil Ke Aur Bhi Kareeb Aane Laga !

लम्हा लम्हा वक्त गुजर जाएगा,
रूह का दमन भी साथ छोड जाएगा,
अभी वक्त है पल दो पल साथ गुजर लो,
कल क्या पता को किस जिंदगी से चला जाएगा।

Lamha Lamha Waqt Guzar Jayega,
Rooh Ka Daman Bhi Sath Chod Jayega,
Abhi Waqt Hai Pal Do Pal Sath Guzar Lo,
Kal Kya Pata Kon Kiski Zindgi Se Chala Jayega.

जाने से पहले शायरी

आप दूर कैसे रहे पाते
दिल साईं आपको कैसे भुला पाए
काश आप सपनों के अलावा शीशे माई बसे होते हैं
खुद को भी देखते तो आप नजर आते…

Aapse Door Kaise Reh Paate
Dil Sai Aapko Kaise Bhula Paate
Kash Aap Sapno K Alawa Sheeshay Mai Basey Hote
Khud Ko Bhi Dekhte Tou Aap Nazar Aate…

दूर हो तो एहसास होता है,
दोस्त के बिना जीवन कितना उदास होता है
उमर हो आपकी सितारे जीतनी लंबी,
ऐसा दोस्त कहां किसी के पास होता है।

Doori Ho To Ahsaas Hota Hai,
Dost Ke Bina Jivan Kitna Udas Hota Hai
Umar Ho Apki Sitaron Jitani Lambi,
Aisa Dost Kahan Kisi Ke Pass Hota Hai.

तेरी दूर का एहसास सताने लगा
तेरी साथ गुजरा हर वक्त याद आने लगा
जब भी तुझे भूलने की कोषिश की मेरे दिल ने
ऐ दोस्त, तू दिल के और भी करीब आने लगा

Teri Doori Ka Ehsaas Sataane Lagaa
Teri Saath Guzaraa Har Waqt Yaad Aane Laga
Jab Bhi Tujhe Bhoolne Ki Koshish Ki Mere Dil Ne
Aye Dost,Tu Dil Ke Aur Bhi Kareeb Aane Laga

मीता दिन गे ये दूरी, ये तय सब हाय
कहो गी ऐक बार के मिलो आ के कभी:
ना हूं गे दूर फिर तुम कहो जिंदगी मैं है
खुलरा रखो तुम दार अपना, हम आते हैं अभी

Mita Dain Gay Yeh Doori, Yeh Faslay Sab Hi
Kaho Gi Aik Baar K Milo Aa K Kabhi
Na Hoon Gay Door Phir Tum Say Is Zindagi Main
Khulra Rakho Tum Dar Apna, Hum Aatay Hain Abhi

दिल में आंसुओं के सिवा कोई चीज नहीं टिकट
कब मिलेगी उसकी यादों से मुझे मुक्ति
जिंदगी तो मेला है अजनबीयों का
किसी अजनबी के चले जाने से जिंदगी तो नहीं रुकती

प्यार में छोड़कर जाने वाली शायरी

Dilme Me Aansuon K Siwa Koi Cheez Nahi Tikti
Kab Milegi Uski Yaadon Se Mujhe Mukhti
Zindegi Toh Mela Hai Ajnabiyon Ka
Kisi Ajnabi K Chale Jane Se Zindegi Toh Nahi Rukhti

आप दूर कैसे रहे पाते
दिल साईं आपको कैसे भुला पाए
काश आप सपनों के अलावा शीशे माई बसे होते हैं
खुद को भी देखते तो आप नजर आते

Aapse Door Kaise Reh Paate
Dil Sai Aapko Kaise Bhula Paate
Kash Aap Sapno K Alawa Sheeshay Mai Basey Hote
Khud Ko Bhi Dekhte Tou Aap Nazar Aate

दूर का एहसास जब सताने लगा
लम्हा-लम्हा तो याद आने लगा
जब भी तुझे भूलने की कोशिश की ऐ दोस्ती
तेरा मुस्कान चेहरा और याद आने लगा..

Doori Ka Ehsaas Jab Sataane Lagaa
Lamha-Lamha To Yaad Aane Laga
Jab Bhi Tujhe Bhoolne Ki Koshish Ki Aye Dost
Tera Muskurata Chehra Aur Yaad Aane Laga..

तुमसे दूर का एहसास सताने लगा
तेरे साथ गुजरा हर लम्हा याद आने लगा
जब भी तुझे भूलने की कोशिश की ऐ दोस्ती
तू दिल के और भी करीब आने लगा

Tumse Doori Ka Ehsaas Sataane Lagaa
Tere Saath Guzaraa Har Lamha Yaad Aane Laga
Jab Bhi Tujhe Bhoolne Ki Koshish Ki Aye Dost
Tu Dil Ke Aur Bhi Kareeb Aane Laga

एहसास होगा जब हम तुमसे दूर हो जाएंगे
आँखों में अंशु होंगे पर नज़र ना आयेंगे
कोई साथ ना दे तो हमें याद करना
अस्मन में भी होंगे तो लौटेंगे

Ehsas Hoga Jab Hum Tumse Dur Ho Jayenge
Ankhon Me Ansu Honge Par Nazar Na Ayenge
Koi Saath Na De To Hame Yaad Karna
Asman Me Bhi Honge To Laut Ayenge