dard-bhare-messages
Dard Bhare Messages

दर्द भरे मैसेज हिंदी में Dard Bhare Messages in Hindi

दर्द भरे मैसेज हिंदी में Dard Bhare Messages in Hindi गम हमें इतना न होता अगर ये धोखा तू हमें किसी और के लिए देता, पर दर्द हुआ तब जब हमें पता चला ये धोखा हमें पैसो के लिया दिया

Dard Bhare Messages

dard-bhare-messages-hindi

Dard Bhare Messages Hindi

अगर आपको लगता है कि आपने उससे सच्चा प्यार करके गलती की थी तो आप गलत है बल्कि गलती तो उसने की है क्योंकि उसने अपनी जिंदगी में एक सच्चे प्यार करने वाले व्यक्ति को खो दिया |

जिंदगी में कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है, और मजबूत बनने के लिए दर्द भी सहना पड़ता है |

अगर किसी ने आपको धोखा दिया है तो आपको दुखी होने की जरूरत नहीं है बल्कि दुखी तो उन्हें होना चाहिए जिन्होंने ऐसा किया है |

जब उसको तुम्हारी कोई कद्र ही नही तो क्यों फिर तुम उसकी फ़िक्र करते हो, प्यार और फिक्र उसकी की जाती है जो हर पल खूबसूरत बना देती है |

नहीं जानता मैं ये, कि तुम्हारे लिए कितनी खास थी वो, पर याद रखना इस बात को कि अब दुखी तुम उसी की वजह से हो |

सुना था दोस्ती का रिश्ता सबसे अलग और खास होता है, पर तुम जैसे कुछ लोग इसी खूबसूरती पर दाग लगा देते हो |

नहीं चाहिए जीवन में तेरे जैसा दोस्त कोई, इससे अच्छा तो जिंदगी को हम अकेले ही जी लेंगे, फिर हमें ये धोखे तो ना मिलेंगे |

सोचा था कि जिंदगी की कुछ खूबसूरत यादें बनाएँगे तेरे साथ हम, पर उसकी जगह तूने तो दे दिया हमें गम |

धोखे तो हमने बहुत खए है पर हमें हमारा दोस्त भी धोखा देगा, इसका हमने न कभी कल्पना की थी |

लगा था कि जिंदगी में एक सच्चा दोस्त मिल गया है हमें, पर उम्मीद न की थी कि वही हमें धोखा दे जाएगा |

गम हमें इतना न होता अगर ये धोखा तू हमें किसी और के लिए देता, पर दर्द हुआ तब जब हमें पता चला ये धोखा हमें पैसो के लिया दिया |

हमने तुझे जो अपना कीमती वक़्त दिया हमें उसका गम नही, दुःख तो इस बात का है कि जब मतलब तेरा निकल गया तो तूने हमें धोखा दे दिया |

वैसे तो तेरा साथ देने में हमने कोई कसर छोड़ी न थी, पर अफ़सोस तूने हमारी किसी बात की कद्र न की |

क्या कमी रह गयी थी हमारे प्यार में जो तूने हमें ये सिला दिया, क्या बता सकती हो हमें इस बेवफाई की वजह |

तुम मेरे लिए खास थी क्योंकि प्यार जो तुमसे इतना था, फिर भी तुमने धोखा दिया पता नहीं क्या थी हमारी खता |

इस दिल को तुमने कुछ ज्यादा ही लगाव था, अब धोखा मिल गया तो इसे अपनी औकात याद आ गयी |

हमने तो वादा जिंदगी भर साथ निभाने का किया था, पर हमें क्या पता था कि इस रिश्ते का अंत ही नहीं था |

हमें दुःख इस बात का नही कि तुम्हे पाने के लिए हमने क्या कुछ नहीं किया, बल्कि इस बात का है कि तुमने हमसे प्यार भी नही किया |

पहली बार हमने किसी से सच्ची मोहब्बत की थी पर उसकी भी तुमने कद्र न की, प्यार के तुम्हारे इस धोखे से हमें समझ आया यही कि इतनी आसानी से अब किसी पर भरोसा करना नहीं |

सही वक़्त पर तुमने हमें धोखा दे दिया इस बात के लिए भी हम तुम्हे शुक्रिया है देते, वरना तुम जैसी धोकेबाज़ के लिए तो हम अपनी जिंदगी बर्बाद कर लेते |

इस कदर तुमने हमारा इस्तेमाल किया कि पुरे टूट चुके है हम, काश तुम हमारी जिंदगी में आते ही नहीं कम से कम न मिलता हमें ये गम |

तुमसे धोखा खाने के बाद नही रहा इरादा हमारा किसी से दिल लगाने का, बस अब मकसद है हमारा जिंदगी को सफल बनाने का |

धोखा जो दिया तुमने हमें तो इस बात पर घमंड न करना, धोखा देने वालो को धोकेबाज़ ही मिलते है |

तुमसे प्यार करने की गलती करदी हमने, अब तो हमारी सच्ची मोहब्बत बस उसी को मिलेगी जो जिंदगी भर के लिए हमारे साथ रहेगी |

अब हमें तुम्हारे जाने का कोई गम नही, क्योंकि अगर तुम्हे हमारी परवाह होती तो तुम ऐसा करते ही नहीं |

तुम्हारे आने के बाद तुम्हारे चले जाने से हमें जितना दुःख हुआ है ये तो हम ही जानते है, क्योंकि प्यार तो सच्चा सिर्फ हमने किया था, तुम क्या जानो इस प्यार की कद्र |

हमें तो लोगो ने बहुत कहा कि नहीं होगा इस रिश्ते का अंत सुखी, पर फिर भी तुम्हारे लिए हमने किसी की बात न सुनी, इसलिए आज है इतने दुखी |

चलो तुमसे धोखा खाने के बाद हमें ये तो समझ आया, बेवफा है ये दुनिया इसलिए अब हमें किसी से दिल नही लगाना |

ना जाने क्या कमी है मुझमें, ना जाने क्या खूबी है उसमें,वो मुझे याद नहीं करती, मैं उसको भूल नहीं पाता

ऐसा नहीं है की अब तेरी चाहत नहीं रही , बस टूट टूट कर, बिखरने की हिम्मत नहीं रही…!!

उनकी तस्वीर देख कर दिन गुजर रहे है मेरे अब…. वो पास होते तो यूँ मैं भी तन्हा ना होती.

मत बतायो तुम कुछ मुझें… मैं तेरी आँखों को हर वक़्त पढ़ती हूँ..

नसीब से ज्यादा आप पर भरोसा किया, नसीब इतना बदला नहीं जितना आप बदल गए||

ये क्या है जो आँखों से रिश्ता है, कुछ है बेहतर जो यूँही दुखता है, कह सकता है पर कहता भी नहीं, कुछ है घायल जो सिसकता है||

मैंने इश्क में सीख लिया वक्त में संभल जाने को, अब वक़्त की तकसीम उन्हें अलविदा कहने को||

दिल का दर्द दिल में रखा, कोई न मिला दिल के करीब, हाले बयान मैं किससे करूँ, मान लिया धोखा तू मेरा नसीब||

लोग दिल के साथ खेलते हैं, और तमाशा ज़िन्दगी का बन जाता है||