asort-shayari

Best Asort Shayari Status Quotes Messages Tasawwur

Best Asort Shayari Status Quotes Messages Tasawwur पूरी होती हैं तसव्वुर में उमीदें क्या क्या दिल में सब कुछ है मगर पेश-ए-नज़र कुछ भी नहीं ❤ तसव्वुर ने तिरे आबाद जब से घर किया मेरा

Asort Shayari

asort-shayari-1

हैराँ हुए न थे जो तसव्वुर में भी कभी तस्वीर हो गए मिरी तस्वीर देख कर❤💕

❤💕हैं तसव्वुर में उस के आँखें बंद लोग जानें हैं ख़्वाब करता हूँ❤💕

❤💕है आबाद मेरे तसव्वुर की दुनिया
हसीं आ रहे हैं हसीं जा रहे हैं❤💕

❤💕है अक्स-ए-आइना दिल में किसी बिलक़ीस-ए-सानी का
तसव्वुर है मिरा उस्ताद बहज़ाद और मानी का❤💕

❤💕हाए ये हुस्न-ए-तसव्वुर का फ़रेब-ए-रंग-ओ-बू
मैं ये समझा जैसे वो जान-ए-बहार आ ही गया❤💕

Asort Shayari

❤💕हाँ दिखा दे ऐ तसव्वुर फिर वो सुब्ह ओ शाम तू
दौड़ पीछे की तरफ़ ऐ गर्दिश-ए-अय्याम तू❤💕

❤💕हर घड़ी तेरा तसव्वुर हर नफ़स तेरा ख़याल
इस तरह तो और भी तेरी कमी बढ़ जाएगी❤💕

❤💕हम बनाएँगे यहाँ ‘साग़र’ नई तस्वीर-ए-शौक़
हम तख़य्युल के मुजद्दिद हम तसव्वुर के इमाम❤💕

❤💕हम बंद किए आँख तसव्वुर में पड़े हैं
ऐसे में कोई छम से जो आ जाए तो क्या हो❤💕

❤💕हम कि साहिल के तसव्वुर से सहम जाते हैं
लोग किस तरह समुंदर में उतरते होंगे❤💕

New Asort Shayari

❤💕सब करिश्मात-ए-तसव्वुर हैं ‘शकील’
वर्ना आता है न जाता है कोई❤💕

❤💕शायद अपना ही तआक़ुब है मुझे सदियों से
शायद अपना ही तसव्वुर लिए जाता है मुझे❤💕

❤💕शाम से उन के तसव्वुर का नशा था इतना
नींद आई है तो आँखों ने बुरा माना है❤💕

❤💕शहर में मुझ से भड़कता था तसव्वुर तेरा
उस की तस्ख़ीर को मैं साकिन-ए-वीराना हुआ❤💕

❤💕लम्हा लम्हा मुझे वीरान किए देता है
बस गया मेरे तसव्वुर में ये चेहरा किस का❤💕

Asort Shayari Status

❤💕रुलाता है मुझे हर-दम तसव्वुर रू-ए-जानाँ का भरा है पानी आँखों में यहाँ चाह-ए-ज़नख़दाँ का❤💕

 ❤💕रात भर उन का तसव्वुर दिल को तड़पाता रहा
एक नक़्शा सामने आता रहा जाता रहा❤💕

❤💕तसव्वुर ख़ाना-आबादी करेगा
तिरे घर मैं रहूँगा मेरे घर तू❤💕

❤💕तसव्वुर ज़ुल्फ़ का है और मैं हूँ बला का सामना है और मैं हूँ❤💕

❤💕तसव्वुर ने तिरे आबाद जब से घर किया मेरा
निकलता ही नहीं दिन रात अपने घर में रहता है❤💕

Asort Shayari Quotes

❤💕तसव्वुर में तिरा दर अपने सर तक खींच लेता हूँ
सितमगर मैं नहीं चलता तिरी दीवार चलती है❤💕

❤💕तसव्वुर में तुझे ज़ौक़-ए-हम-आग़ोशी ने भींचा था बहारें कट गई हैं आज तक पहलू महकता है❤💕

❤💕तिरे ग़म के सामने कुछ ग़म-ए-दो-जहाँ नहीं है है जहाँ तिरा तसव्वुर वहाँ ईन-ओ-आँ नहीं है❤💕

❤💕तिरे तसव्वुर की धूप ओढ़े खड़ा हूँ छत पर मिरे लिए सर्दियों का मौसम ज़रा अलग है❤💕

 ❤💕तुम्हारी मस्त आँखों का तसव्वुर
मिरी तौबा से टकराने लगा है❤💕

❤💕तू निगाहों में तसव्वुर में जिगर में दिल में फ़ाएदा क्या जो किया आँख से पर्दा तू ने❤💕

 ❤💕दिल-ए-वारफ़्ता-ए-दीदार की अल्लाह रे मह्विय्यत
तसव्वुर में तिरे वो तेरी सूरत भूल जाता है❤💕

Asort Shayari Messages

❤💕दुनिया-ए-तसव्वुर हम आबाद नहीं करते
याद आते हो तुम ख़ुद ही हम याद नहीं करते❤💕

❤💕न ये है न वो है न मैं हूँ न तू है हज़ारों तसव्वुर और इक आरज़ू है❤💕

 ❤💕न होगा कोई मुझ सा महव-ए-तसव्वुर
जिसे देखता हूँ समझता हूँ तू है❤💕

 ❤💕नज़रों में हुस्न दिल में तुम्हारा ख़याल है
इतने क़रीब हो कि तसव्वुर मुहाल है❤💕

❤💕नहीं बुतों के तसव्वुर से कोई दिल ख़ाली
ख़ुदा ने उन को दिए हैं मकान सीनों में❤💕

❤💕पूरी होती हैं तसव्वुर में उमीदें क्या क्या दिल में सब कुछ है मगर पेश-ए-नज़र कुछ भी नहीं❤💕

❤💕फ़रियाद ऐ तसव्वुर-ए-अबरू-ए-दिल-फ़रेब
क़िब्ले की सम्त भूल गया हूँ नमाज़ में❤💕

 ❤💕फ़िलफ़िल-ए-ख़ाल-ए-मलाहत के तसव्वुर में तिरे
चरचराहट है कबाब-ए-दिल-ए-बिरयान में क्या❤💕

Asort Shayari

❤💕बिछड़ कर उस से सीखा है तसव्वुर को बदन करना
अकेले में उसे छूना अकेले में सुख़न करना❤💕

❤💕महव हूँ इस क़दर तसव्वुर में
शक ये होता है मैं हूँ या तू है❤💕

❤💕मिटा मिटा सा तसव्वुर है नाज़ माज़ी का
हयात-ए-नौ है अब इस उम्र-ए-राएगाँ से गुरेज़❤💕

❤💕मेरे तसव्वुर ने बख़्शी है तन्हाई को भी इक महफ़िल
तू महफ़िल महफ़िल तन्हा हो ये भी तो हो सकता है❤💕
|Shayari Naama|

Read Also: Sad Status