अपना_दर्द_शायरी

अपना दर्द शायरी | Apna Dard Shayari

अपना दर्द शायरी | Apna Dard Shayari | खुशियों की बरसातें हों प्यार के दिन और मोहब्बत भरी रातें हों रंजिशे नफरतें मिट जाएं सदा के लिए सभी के दिलों में ऐसी चाहतें हों 

अपना दर्द शायरी

apna-dard-shayari

1.हमे मुस्कान आपकी यादो से ::: मिलती हैं :::
दिल को राहत आपकी बातों से ::: मिलती हैं :::
बन्द मत करना ये दोस्ती का ::: सिलसिला :::
दिल की धड़कन आपकी दोस्ती से ::: चलती हैं :::

2.रिश्ते दिल से बनते है बातों से नही,
कुछ लोग बहुत सी बातो के बाद भी
अपने नही होते और *कुछ
शांत रहकर भी अपने बन जाते है …

3.उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास,
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया.

4.मुठ्ठियों में कैद है जो खुशियाँ सब में बांट दो…!!
तेरी हो चाहे मेरी हो एक दिन हथेलियां तो खुल ही जानी हैं…!!