दुनिया-की-सबसे-दर्द-भरी-शायरी

दुनिया की सबसे दर्द भरी शायरी Status Quotes Messages

दुनिया की सबसे दर्द भरी शायरी Status Quotes Messages Emotional Dard Shayari On Dard Bhari Share On Facebook Friends For Likes Gain On Guys Riches Very Sadness Collection New Latest Whatsapp Messages दर्द भरे Quotes 

दुनिया की सबसे दर्द भरी शायरी

duniya-ki-sabse-dard-bhari-shayari-hindi

पलकों में आँसू और दिल में दर्द 💔 सोया है , हँसने वालों को क्या पता रोने 😭 वाला किस कदर रोया 😭 है।

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता
इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता
ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता
के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता ……..

बहुत दिनों बाद उसे देखा,
💞 दिल नहीं भरा पर आँखें 👀 भर आईं…. 😢 😢  

पाई थी हर चीज़ जो चाही मैंने ज़िन्दगी में,
बस तेरी उल्फत के आगे मैं हो गया बर्बाद,
कब तक राह देखता मैं भी तेरे आने की,
अरसो से कर रहा हूँ मैं तेरा इंतज़ार.

वो शख्स मेरे हर किस्से कहानी में आया
जो मेरा हिस्सा होकर भी मेरे हिस्से ना आया 😭 💔 😢

जिंदगी हे सफर का सील सिला,
कोइ मिल गया कोइ बिछड़ गया,
जिन्हे माँगा था दिन रत दुआ ओमे,
वो बिना मांगे किसी और को मिल गया.

माना तुम लफ़्हज़ों के बादशाह हो पर हम भी ख़ामोशियों पर राज़ करते हैं 😢 😢

छोड दो तन्हाई मे मुझको यारो..
साथ मेरे रहकर क्या पाओगे..
अगर हो गई आपको भी मोहब्बत कभी..
मेरी तरह तुम भी पछताओगे..

मैं तुम पर अपनी जान भी ….लुटा दूँ……..तुम मुझ से …….मुझ जैसी मोहब्बत तो करो.. 😭 💔 😢

वफ़ा के शीश महल में सजा लिया मैनें ,
वो एक दिल जिसे पत्थर बना लिया मैनें,
ये सोच कर कि न हो ताक में ख़ुशी कोई ,
ग़मों कि ओट में ख़ुद को छुपा लिया मैनें,
कभी न ख़त्म किया मैं ने रोशनी का मुहाज़ ,
अगर चिराग़ बुझा, दिल जला लिया मैनें,
कमाल ये है कि जो दुश्मन पे चलाना था ,
वो तीर अपने कलेजे पे खा लिया मैनें |

वो बेवफा हमारा इम्तेहा क्या लेगी…
मिलेगी नज़रो से नज़रे तो अपनी नज़रे ज़ुका लेगी…
उसे मेरी कबर पर दीया मत जलाने देना…
वो नादान है यारो… अपना हाथ जला लेगी.

मोहब्बत का नतीजा,
दुनिया में हमने बुरा देखा,
जिन्हे दावा था वफ़ा का,
उन्हें भी हमने बेवफा देखा.

फूल सबनम में डूब जाते है,
झख्म मरहम में डूब जाते है |
जब आते है खत तेरे, हम तेरे गम में डूब जाते है.|

वक्त नूर को बेनूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है,
कौन चाहता है अपने से दूर होना,
लेकिन वक्त सबको मजबूर कर देता है !

ना सोचा था जिनके लिए हम मर मिटे,
एक दिन वही हमसे दूर हो जाएँगे,
जीने की तमन्ना तो हम भी रखते थे,
अब तेरे बिना कैसे जी पाएगे…

साथ में गुजारी हर वो, शाम भूल गए,
मोहब्बत वाली बातें, तमाम भूल गए,
कायनात में कायम,बहुत कम ही रहते हैं अपने वादे पे,
फिर भी, गिला यही है कि तुम मेरा, नाम भूल गए.

 हर इल्जाम का हकदार वो हमे बना जाते है,
हर खता कि सजा वो हमे सुना जाते है,
हम हरबार खामोश रह जाते है,
क्योकी वो अपना होने का हक जता जाते है.

बहुत समझाया ख़ुद को मगर समझा नही पाये,
बहुत मनाया ख़ुद को मगर मना नही पाये,
जाने वो क्या जज्बा था वो एहसास था,
खूब भुलाना चाहा उसे हमने मगर भुला नही पाये.

मेरी वफा के क़ाबिल नही हो तुम,
प्यार मिले ऐसे इन्सान नही हो तुम,
दिल क्या तुम पर ऐतबार करेगा,
प्यार मे धोखा दिया ऐसे बेवफा हो तुम.

लबों पे नाम है जिनका
उन्हें कुछ भी खबर नहीं
गजल में दर्द है जिनका
उन्हें कुछ भी खबर नही!!

हम भूल जाये ऐसी दिल की हसरत कहाँ,
वो याद करे हमे इतनी उसे फुर्सत कहाँ,
जिनके चारो तरफ हो अपनों का साथ,
उन्हें हमारी जरुरत कहाँ.

रास्ता ऐसा भी दुशवार न था,
बस उसको हमारी चाहत पे ऐतबार न था,
वो चल न सकी हमारे साथ वरना,
हमे तो जान देने से भी इनकार न था.

 मत इंतज़ार कराओ हमे इतना,
कि वक़्त के फैसले पर अफ़सोस हो जाये,
क्या पता कल तुम लौटकर आओ,
और हम खामोश हो जाएँ.

Duniya Ki Dard Bhari Shayari

 दिल से खेलना हमे आता नहीं,
इसलिये इश्क की बाजी हम हार गए,
शायद मेरी जिन्दगी से बहुत प्यार था उन्हें,
इसलिये मुझे जिंदा ही मार गए.

लोग मोहब्बत को खुदा का नाम देते है,
कोई करता है तो इल्जाम देते है।
कहते है पत्थर दिल रोया नही करते,
और पत्थर के रोने को झरने का नाम देते है।

आज उन्हे फुर्सत नही हमसे बात करने की,
ये जिन्दगी गुजर गई उनकी फरियाद करके,
वो आए हमारी मौत पे,
तो कह देना अभी सोया है आपको याद करके.

 खफा होने से पहले खता बता देना,
रुलाने से पहले हँसना सिखा देना,
अगर जाना हो कभी हम से दूर आप को,
तो पहले बिना सांस लिए जीना सिखा देना।

पढ़ने वालों की कमी हो गयी है आज इस ज़माने में,
नहीं तो गिरता हुआ एक-एक आँसू पूरी किताब है!!

सो जा ऐ दिल कि अब धुन्ध बहुत है तेरे शहर में,
अपने दिखते नहीं और जो दिखते है वो अपने नहीं…।

जिसने भी की मुहब्बत, रोया जरूर होगा।
वो याद में किसी के खोया जरूर होगा।

आँखों में आंसुओ के, आने के बाद उसने,
धीरे से उसको उसने, पोंछा जरुर होगा।

किताबों में कहते हैं फूल तोडना मना है,
बागों में कहते हैं फूल तोडना मना है,
फूलों से कीमती चीज़ हैं दिल..
कोई नहीं कहता कि दिल तोड़ना मना हैं! ????

ना शौक दीदार का,
ना फिक्र जुदाई की,
बड़े खुश नसीब हैँ वो लोग जो,
मोहब्बत नहीँ करतेँ!

यूँ ना बर्बाद कर मुझे,
अब तो बाज़ आ दिल दुखाने से..
मै तो सिर्फ इन्सान हूँ,
पत्थर भी टूट जाता है, इतना आजमाने से।

पास आ जरा दिल की बात सुनाऊ तुझको,
कैसे धरकता है दिल आवाज़ सुनाऊ तुझको,

आ के तू देख ले दिल पे लिखा है नाम तेरा,
अगर कहता है तो दिल चीर के दिखाऊ तुझको..

जितना जलाया है तुमने प्यार में मुझको,
दिल तो करता है की मै भी जलाऊ तुझको,

अजनबी होता तो ऐसा भी कर लेता शायद ,
मगर तू तो अपना है कैसे सताऊ तुझको..!!

 बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा लगती है,
यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है ।
तड़प उठता हूँ दर्द के मारे,
ज़ख्मों को जब तेरे शहर की हवा लगती है ।
अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किस से करूँ,
मुझ को तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा लगती है।

जो लोग एक तरफा प्यार करते है
अपनी ज़िन्दगी को खुद बर्बाद करते है !
नहीं मिलता बिना नसीब के कुछ भी,
फिर भी लोग खुद पर अत्याचार करते है !!