duniya-ki-sabse-achi-shayari

दुनिया की सबसे अच्छी शायरी

दुनिया की सबसे अच्छी शायरी “जिंदगी देने वाले, मरता छोड़ गये, अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये, जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की, वो जो साथ चलने वाले, रास्ता मोड़ गये.” 2021 

दुनिया की सबसे अच्छी शायरी

दुनिया_की_सबसे_अच्छी_शायरी

ऐसा लगा मेरे सनम, हम जो यहाँ मिले सहारा
में जैसे शबनमी चाहत के गुल खिले ये जमीन,
आसमान, कह रहे, हम तो कभी ना होंगे जुदा

पलकों में तेरे रूप का सपना सजा दिया
पहली नजर में ही तुझे, अपना बना लिया है
यही आरजू, हर घड़ी बैठी रहो मेरे सामने

मेरी दुनियाँ है तुझ में कही तेरे बिन मैं क्या,
कुछ भी नहीं मेरी जान में तेरी जान है, ओ साथी मेरे

जिंदगी सुंदर है पर मुझे.
जीना नहीं आता, हर चीज में नशा है
पर मुझे. पीना नहीं आता, सब मेरे बिना जी सकते हैं,
र्सिफ मुझे अपनों के बिना…. जीना नहीं आता….

याद करना और याद आना दोनों अलग-अलग बातें है
याद हम उन्हें करते हैं जो हमारे अपने है
और याद हम उन्हें आते है
जो हमें अपना समझते है! !!!!

ढूंढा करोगे हर किसी में मुझको,
देखना वो मंजर भी आएगा ..
हम याद भी आएंगे और आँफूल तो कई है यहाँ,
मगर वो महक कही छुप गयी; यार तो बहुत है यहाँ,

मगर वो दोस्ती कही छुप गयी;
इश्क़ में धोखा क्या मिला हमें, लगता है
हमारी दीवानगी कही छुप गयी;
खों में समंदर भी आएगा …!!

ढूंढा करोगे हर किसी में मुझको, देखना वो मंजर भी आएगा ..
हम याद भी आएंगे और आँखों में समंदर भी आएगा …!!

नजर मिली तो फसाने हुए
एक पल मेँ हम आपके दीवाने हुए
जब से आये हो आप हमारी मेँ ज़िन्दगी में
अंदाज़ ही हमारे कुछ शायराना हुए

सारे मंजर बदल गए होंगे ..आप हद से निकल गए होंगे ….!!
आग इतनी कहाँ थी फूलों में हाथ शबनम से जल गए होंगे .

कुछ चेहरे कभी भुलाये नहीं जाते,
कुछ नाम दिल से मिटाए नहीं जाते,
मुलाक़ात हो या न हो, लेकिन अऐ यार,
प्यार के चिराग कभी बुझाये नहीं जाते !

“वक्त के पन्ने पलटकर,
फ़िर वो हसीं लम्हे जीने को दिल चाहता है,
कभी मुशाकराते थे सभी दोस्त मिलकर
अब उन्हें साथ देखने को दिल तरस जाता है.”

सुकून अपने दिल का मैने खो दिया,
खुद को तन्हाई के समुंदर मे डुबो दिया.
जो था मेरे कभी मुस्कुराने की वजह,
आज उसकी कमी ने मेरी पलको को भिगो दिया…

गलियों से गुजरने का ना इल्ज़ाम दो
हमको दीवानगी खींच लाती है ,
दिल के हाथों मजबूर हैं हम.. कहते है
की पहला प्यार कभी भुलाया नही जाता;
फिर पता नही लोग अपने माँ बाप का प्यार क्यूँ भूल जाते है !!

उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास,
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया.