ताने_मारने_वाली_शायरी

ताने मारने वाली शायरी | Tane Marne Wali Shayari

ताने मारने वाली शायरी दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया,खाली ही सही हाथों में जाम तो आया,मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने,यूँ ही सही, उसके लबों पे मेरा नाम तो आया

 

ताने मारने वाली शायरी

tane-marne-wali-shayari

वफ़ा का नाम सुना था
पुराने लोगों से….
हमारे दौर में शायद ये हादसा हुआ ही नही….

कोई पूछे मेरे बारे में… तो कह देना इक लम्हा था जो गुज़र गया,,
कोई पूछे तेरे बारे में… मैं कह दूंगा इक लम्हा था जो मैं जी गया..!!…..

चार दिनों की उम्र मिली है
और
फ़ासले जन्मों के…
इतने कच्चे रिश्ते क्यूँ हैं;
इस दुनिया में अपनो के…!!!

हमेशा उनके करीब मत रहिये,
जो आपको खुश रखते हैं,
बल्कि कभी उनके भी करीब जाइये,
जो आपके बिना खुश नहीं रहते हैं!!!

रिश्तों में इतनी बेरुख़ी भी
अच्छी नहीं..
देखना कहीं मनाने वाला ही ना रूठ जाए
तुमसे..!

तो सुनो एक सच्चाई …के ये शेरो शायरी तो महज दिल बहलाने के
बहाने हैं…
कागज पर लफ्ज उतारने से महबूब नही
लौटा करते…!!

तेरे ख्वाबों का भी है शौक, तेरी यादो में भी है मजा,
समझ नहीं आता सो कर तेरा दीदार करूँ या जाग कर तुझे याद करूँ…

समझा ना कोई दिल की बात को;
दर्द दुनिया ने बिना सोचे ही दे दिया;
जो सह गए हर दर्द को हम चुपके से;
तो हमको ही पत्थर दिल कह दिया।..

किसने कहाँ तूफानों में जाने चली जाती है
अभी-अभी उसकी बाँहों से सही सलामत लौटा हूँ

हम तो नादान है क्या समझेंगे वस्ल ए
मोहब्बत,
बस तुझे चाहते थे चाहते हैं और चाहते
रहेंगे…….

उसकी फितरत परिंदों सी थी मेरा मिज़ाज दरख़्तों जैसा,,
उसे उड़ जाना था और मुझे कायम ही रहना था,,

एक गुनाह रोज,
किये जा रहा हूँ मैं…!!!
तुझसे दूर रहकर भी,
जिए जा रहा हूँ मैं…!!!

तेरी याद आती है तो तड़पता बहुत हु,
सच तुजे याद करके सिसकता बहुत हु,
मेरे सनम मैं तेरा प्यार भुला नहीं सकता,
तुजे पहुंचा ही नहीं पाता,ख़त लिखता बहुत हु !!

लफ्ज लिखता हूँ तॊ
अहसास लिखा जाता हैं
दर्द लिखता हूँ तॊ मोहब्बत लिखा जाता
मोहब्बत लिखता हूँ तॊ तेरा नाम लिखा जाता हैं !

मैं तो चिराग हूं तेरे आशियाने का,
कभी ना कभी तो बुझ जाऊंगा,
आज शिकायत है तुझे मेरे उजाले से
कल अंधेरे में बहुत याद आऊंगा।

तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा,
तू ज़िंदगी का एक अहम् हिस्सा है मेरा..
मेरी मोहब्बत तुझसे, सिर्फ़ लफ्जों की नहीं है,
तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा..

ज़रूरी काम है लेकिन रोज़ाना भूल जाता हूँ,
मुझे तुम से मोहब्बत है बताना भूल जाता हूँ,