zakhm

Best जख्म Shayari Status Quotes Messages & Thought

Best जख्म Shayari Status Quotes Messages & Thought किसी से हाल पूछने में भी डर लगता है, बिन मतलब अब कौन किसको याद करता है। मतलबी लोगों के वजह से शायद ये भ्रम लगता है ।

जख्म Shayari, Status, Quotes

zakhm-2

जख्म

शरीर के ज़ख्म पर मरहम लगाती हूं दिल के ज़ख्म को मुस्कुराहट से छुपाती हूं

जिंदगी ज़ख्म तो लाखों देती हैं, बस कौन सा ज़ख्म आप दिल पे लेते हों वहीं से एक नई कहानी लिखी जाती हैं।

अच्छा तो हमारे जख्म भरने आए हो , पहले ये बताओ ! तुमको चोट किसने दी ? जो हमसे मरहम लेने आए हो।

एक नज़्म है. जिसने फिर से मेरे जख्म को कुरेदा है.. रिस चूका है कितना ये..मुझे खबर नहीं.. पर इश्क़ है ये…समीर.. हर बार ज़ख़्म ना भरने की दुआ मांग लेता है.!!

किसी से हाल पूछने में भी डर लगता है, बिन मतलब अब कौन किसको याद करता है। ये जख्म लाज़मी है,इसे छुपालो गौरव, बेहतर होगा कि,खुद को सम्भाल लो गौरव। फिक्र दिल से हो फिर भी कहाँ किसी को अहम लगता है, मतलबी लोगों के वजह से शायद ये भ्रम लगता है ।

Read More: Sad Status