kuch-aisi-baate-jo-dil-ko-chu-jaye

कुछ ऐसी बातें जो दिल को छू जाए

कुछ ऐसी बातें जो दिल को छू जाए दिल की धड़कन और मेरी सदा है वो मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है वो चाहा है उसे चाहत से बड़ कर मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है वो

कुछ ऐसी बातें जो दिल को छू जाए

kuch-aisi-baate-jo-dil-ko-chu-jaye-2

आज असमान के तारों ने मुझे पूछ लिया
क्या तुम्हें अब भी इंतज़ार है उसके लौट आने का
मैंने मुस्कुराकर कहा
तुम लौट आने की बात करते हो
मुझे तो अब भी यकीन नहीं उसके जाने का
😭😭

 माना आज उन्हें हमारा कोई ख़याल नहीं
जवाब देने को हम राज़ी है
पर कोई सवाल नहीं
पूछो उनके दिल से क्या हम उनके यार नहीं
क्या हमसे मिलने को वो बेकरार नहीं
💔 😢

 रेत पर नाम कभी लिखते नहीं
रेत पर नाम कभी टिकते नहीं
लोग कहते है कि हम पत्थर दिल हैं
लेकिन पत्थरों पर लिखे नाम कभी मिटते नहीं
😭😭

महोब्बत और नफरत सब मिल चुके हैं मुझे
मैं अब तकरीबन मुकम्मल हो चोका हूँ
😢 😢

ये डूबने वाले का ही होता हे कोई फन
आँखों में किसी के भी समंदर नहीं होता

दिल की धड़कन और मेरी सदा है वो
मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है वो
चाहा है उसे चाहत से बड़ कर
मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है वो
💔 😢

तुम मुझे मौका तो दो ऐतबार बनाने का
थक जाओगे मेरी वफाओं के साथ चलते चलते

तमाम नींदें गिरवी हैं हमारी उसके पास
जिससे ज़रा सी मुहब्बत की थी हमनें

बस इतना ही कहा था
कि बरसो के प्यासे हैं हम
उसने अपने होठों पे होंठ रख के
हमे खामोश कर दिया

 उनके आने के इंतज़ार में हमनें
सारे रास्ते दिएँ से जलाकर रोशन कर दिए
उन्होंने सोचा कि मिलने का वादा तो रात का था
वो सुबह समझ कर वापस चल दिए।
💔 💔

 बेवाफायों की इस दुनियां में संभलकर चलना मेरे दोस्तों
यहाँ बर्बाद करने के लिए
मुहब्बत का भी सहारा लेते हैं लोग
💔 😢

मेरे इश्क ने सीख ली है
अब वक़्त की तकसीम… वो मुझे बहुत कम याद आता है
सिर्फ इतना – दिल की हर एक धड़कन के साथ

बड़ी मुददत के बाद मिलने वाली थी कैद से आज़ादी
पर किस्मत तो देखो
जब आज़ादी मिलने वाली थी
तब तक पिंजरे से प्यार हो चुका था
💔 💔

 मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही
वो मुझे चाहे या मिल जाये
जरूरी तो नही
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसों में वो
सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही
💔 😢

खफा न होना हमसे
अगर तेरा नाम जुबां पर आ जाये
इंकार हुआ तो सह लेंगे और अगर दुनिया हंसी
तो कह देंगे
कि मोहब्बत कोई चीज़ नहीं
जो खैरात में मिल जाये
चमचमाता कोई जुगनू नहीं
जो हर रात में मिल जाये
😭😭

हमसे बदल गये वो निगाहें तो क्या हुआ जिंदा हैं कितने लोग मोहब्बत किये बगैर
💔 😢

 ना आना लेकर उसे मेरे जनाजे में
मेरी मोहब्बत की तौहीन होगी
मैं चार लोगो के कंधे पर हूंगा
और मेरी जान पैदल होगी

जो दिल से करीब हो उसे रुसवा नहीं कहते
यूं अपनी मोहब्बत का तमाशा नहीं करते
खामोश रहेंगे तो घुटन और बढ़ेगी
इसलिए अपनों से कोई बात छुपाया नहीं करते

वफ़ा का लाज हम वफा से निभायेगें
चाहत के दीप हम आँखों से जलाएंगे
कभी जो गुजरना हो तुम्हें दूसरे रास्तों से
हम फूल बनकर तेरी राहों में बिखर जायेंगे
😭😭

सब कुछ है मेरे पास पर दिल की दवा नहीं
दूर वो मुझसे हैं पर मैं खफा नहीं
मालूम है अब भी वो प्यार करते हैं मुझसे
वो थोड़ा सा जिद्दी है
मगर बेवफा नहीं
😢 😢

धोखा दिया था जब तूने मुझे
जिंदगी से मैं नाराज था
सोचा कि दिल से तुझे निकाल दूं
मगर कंबख्त दिल भी तेरे पास था।
💔 😢

दो दिलो की मोहब्बत से जलते हैं लोग
तरह-तरह की बातें तो करते हैं लोग
जब चाँद और सूरज का होता है खुलकर मिलन
तो उसे भी सूर्य ग्रहण तक कहते हैं लोग
💔 😢

छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह
कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे
मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह
कि होश भी आने की इजाज़त मांगे

उनके आने के इंतज़ार में हमनें
सारे रास्ते दिएँ से जलाकर रोशन कर दिए
उन्होंने सोचा कि मिलने का वादा तो रात का था
वो सुबह समझ कर वापस चल दिए।
😭😭